जमुई:बिजली बिल के मामले में तीन लोगो पर प्राथमिकी

जमुई से सरोज कुमार दुबे की रिपोर्ट

जिले के सोनो प्रखंड क्षेत्र के चरकापत्थर थाना क्षेत्र अंतर्गत बिजली चोरी मामले में दो लोंगो पर चरकापत्थर थाना में मामला दर्ज कराई गई है ।बताते चले कि विद्युत विभाग के सहायक विधुत अभियंता राकेश कुमार दुबे ने बताया कि शीर्ष मुख्यालय से प्राप्त सुचना के आधार पर बिजली की चोरी पकड़ने के लिए एक टीम का गठन किया गया । लोग चोरी छुपे बिजली का उपभोग करने से बाज नहीं आ रहे हैं जिस कारण विद्युत विभाग द्वारा 3 लोगों के खिलाफ चरकापत्थर थाना में केस दर्ज करवाया है। एसडीओ राकेश कुमार दुबे ने चरकापत्थर थानाध्यक्ष को एक लिखित आवेदन में बताया कि बिजली चोरी की शिकायत व शीर्ष कंपनी मुख्यालय से प्राप्त निर्देश के आलोक में एसटीएफ के जेई रौशन कुमार,मानव बल मिथिलेश कुमार,प्रमोद कुमार व रामदेव कुमार सिंह के साथ छापेमारी दल गठित कर चरकापत्थर थानाक्षेत्र के कोनिया गांव में छापेमारी की गई। कोनिया गांव निवासी पंचानंद सिंह पिता स्वर्गीय बलदेव सिंह अपने आवासीय परिसर में चोरी छुपे बिजली का उपयोग कर रहा था। पंचानंद सिंह ने दिनांक 02 / 08 / 21 को नए कनेक्शन के लिए आवेदन दिया था परंतु वह अभी तक बिना मीटर के और अवैध कनेक्शन को चला रहे थे जिससे बिजली विभाग को ₹4360 की क्षति हुई है । वहीं दूसरी ओर कोनिया गांव के ही विजय कुमार पिता कामदेव सिंह के द्वारा भी टोका लगाकर बिजली की चोरी की जा रही थी जिस कारण उनके ऊपर 9607 रुपे की जुर्माना लगाया गया है । तत्पश्चात छापेमारी दल योगेंद्र सिंह पिता रामविलास सिंह ग्राम कोनिया के यहां पहुंचा और जब वहां जांच किया गया तो उनके द्वारा भी अवैध रूप से बिजली की चोरी की जा रही थी जिस कारण विभाग को ₹8293 का घाटा हुआ है । साथ ही उनके ऊपर पहले से भी बकाया बिजली बिल ₹4896 का है जो रामविलास सिंह के नाम से चल रहा था , और बिजली मीटर से कनेक्शन हटाकर डायरेक्ट व्यवहार में लाया जा रहा था इन सारी घटनाओं को देखते हुए बिजली विभाग ने तीनों व्यक्तियों पर बिजली विभाग की धारा के अनुसार चरका पत्थर थाना में तीनों व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए एक आवेदन दिया गया है । थानाध्यक्ष राजाराम शर्मा ने बताया कि आवेदन प्राप्त हो चुका है और इन सभी व्यक्तियों के ऊपर मामला दर्ज कर आवश्यक कागजी कानूनी कार्रवाई की जाएगी । क्योंकि तीनों को बिजली चोरी करते हुए पकड़ा गया।एसडीओ ने बताया कि इससे विभाग को राजस्व की काफि क्षति हुई है। तीनों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर करवाई की जाएगी । वहीं दूसरी ओर विभाग द्वारा चलाए गए इस अभियान से अवैध रूप से बिजली का उपभोग करने वाले लोगों के बीच हड़कंप मचा है।

Related posts