विषम परिस्थितियों का डटकर मुक़ाबला करके हासिल कर सकते हैं कोई भी लक्ष्य – पीआरओ मोहम्मद मुदस्सीर आलम





गया देश के प्रख्यात एवं टॉप रैंकिंग में शामिल विश्वविद्यालय अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के संस्थापक सर सैयद अहमद खान की याद में एएमयू के पूर्वर्ती छात्रों ने नवादा में सर सैयद डे मनाया गया है | एएमयू से पढ़े नवादा ज़िला मुख्यालय एवं ज़िले के अन्य भागों के पूर्वर्ती विद्यार्थियों ने सर सैयद अहमद खान के जन्म दिवस (17 अक्टूबर) के उपलक्ष में एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया है | नवादा शहर के अंसार नगर में आयोजित सर सैयद डे कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में एएमयू के पूर्वर्ती छात्र एवं वर्तमान में गया स्तिथ दक्षिण बिहार केन्द्रीय विश्वविद्यालय सीयूएसबी) के जन सम्पर्क पदाधिकारी पीआरओ मोहम्मद मुदस्सीर आलम शामिल हुए हैं |इस कार्यक्रम में अन्य अतिथियों के रूप में एसडीपीओ नवादा उपेन्द्र प्रसाद, सर्किल इस्पेक्टर नवादा नेयाज़ अहमद, नौशाद ज़ुबैर, गोपाल शरण, जियाउद्दीन अंसारी, मास्टर मेराज एवं श्री शहीद हसनैन आदि उपस्थित थे |इस कार्यक्रम की शुरुवात में आयोजन समिति के सदस्यों ने अतिथियों का स्वागत फूलों का गुलदस्ता एवं स्मृति चिन्ह (मोमेंटो) देकर किया गया है |
अपने संबोधन में मुख्य अतिथि मुदस्सीर ने एएमयू में बिताए गए खट्टे – मीठे पलों को याद करते हुए सभागार में उपस्थित अतिथियों, पूर्वर्ती विद्यार्थियों एवं शहर के विभिन्न स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों से साझा किया गया है | बिहार के सीमावर्ती ज़िले किशनगंज से ताल्लुक रखने वाले मोहम्मद मुदस्सीर आलम ने कहा कि सिमित संसाधनों के बावजूद उनमें जीवन में पढ़कर कुछ बनने के ललक थी और उन्हें कामयाबी मिली है | बच्चों को संबोधित करते हुए उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि जीवन में कोई भी लक्ष्य मुश्किल नहीं होता बस उसे सच्ची लगन एवं मेहनत से हासिल करने की कोशिश करनी चाहिए | आम जीवन में पढ़ाई के दौरान तरह – तरह की कठिनाइयाँ ज़रूर आती हैं लेकिन उनसे घबड़ाना नहीं है और उस परिस्थिति का डट कर मुक़ाबला करते हुए लक्ष्य की प्राप्ति की जा सकती है | मुख्य अतिथि ने अपने संस्थान सीयूएसबी के बारे में भी जानकारी साझा करते हुए बताया की यहाँ अंडरग्रेजुएट (यूजी), पोस्टग्रेजुएट (पीजी) एवं पीजी डिप्लोमा स्टार के 30 पाठय्रकमों के साथ – साथ करीब 25 विषयों में उच्च शिक्षा प्रदान की जाती है |
मुख्य अतिथि के अलावा अन्य अतिथियों ने भी जीवन में सफल होने और एक अच्छा करियर बनाने के उपाय साझा किये गए हैं | वक्ताओं के भाषण के साथ – साथ स्कूल के छात्र तथा छात्राओं ने मधुर गीतों एवं आकर्षक भाषणों की प्रस्तुति दी गई है |इस कार्यक्रम के अंत में सर सैयद विषय पर आयोजित क्विज प्रतियोगिता के विजेताओं को अतिथियों द्वारा प्रमाण पत्र (सर्टिफिकेट), स्मृति चिन्ह (मोमेंटो) एवं मैडल के साथ पुरुस्कृत किया गया | गौरतलब है कि नवादा में पहली बार सर सैयद दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया एवं इस कार्यक्रम को सफल बनाने में आयोजन समिति के सदस्यों ने अहम भूमिका निभाई है| आयोजन समिति में मुख्य रूप से एएमयू के पूर्वर्ती छात्र क्रमशः अब्दुल्लाह आज़म , शहबाज़ कमाल , आबिद राजा , जाहिद , एहसान , साकिब कमाल, रजा तसनीम आदि शामिल थे | अंत में धन्यवाद ज्ञापन एएमयू के पूर्वर्ती छात्र शहबाज़ कमाल ने प्रस्तुत करते हुए अतिथियों एवं कार्यक्रम में शामिल लोगों के प्रति आभार प्रकट किया |

Related posts