हजारीबाग:देशरत्न डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद, लांस नायक अल्बर्ट एक्का, शहीद खुदीराम बोस याद किए गए



हजारीबाग : जिला कांग्रेस कार्यालय कृष्ण बल्लभ आश्रम में भारतीय गणराज्य के प्रथम राष्ट्रपति देशरत्न डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद की 137 वीं जयंती शहीद खुदीराम बोस की 134 वीं जयंती तथा लांस नायक अल्बर्ट एक्का की 50 वीं शहादत दिवस मनाई गई । कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला अध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह नें कहा की देशरत्न डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद स्वाधीन भारतीय गणराज्य के प्रथम राष्ट्रपति थे । अत्यंत धार्मिक भाव से जहां उन्होंने धार्मिक श्रद्धा को जीवन में स्थान दिया था, उसी भांति भारतीय संस्कृति और इतिहास के प्रति भी उन्हें लगाव था । संस्कृत और फारसी के तो वे विद्वान थे ही इस बुद्धिमता के बल पर, इस किसान पुत्र नें गांधीजी से प्रभावित होकर, स्वाधीनता संग्राम में पूरी निष्ठा और निडरता के साथ भाग लिया । अपनी सादी जीवनी से वे किसानों में घुलमिल गए । पटना में सदाकत आश्रम की स्थापना उन्होंने की । देश के प्रथम राष्ट्रपति बने रहने पर भी अहंकार से दूर रहे और कर्तव्यनिष्ठ बने रहे । निवृत होते ही उन्होंने पुन: सदाकत आश्रम के अपने कार्यक्षेत्र को बिन्दु बनकर शेष समय वहीं व्यतीत किया ।
जिला कार्यकारिणी के सदस्य विरेन्द्र कुमार सिंह नें कहा कि खुदीराम बोस मात्र 19 वर्ष की उम्र में भारतवर्ष की स्वतंत्रता के लिए फांसी पर चढ़ गए वहीं लांस नायक अल्बर्ट एक्का भारत-पाक युद्ध 03 दिसंबर 1971 में हिली की लड़ाई में वीरगति प्राप्त की और मरणोपरांत इन्हें परमवीर चक्र सम्मानित किया गया ।
कार्यक्रम में उपाध्यक्ष सह प्रवक्ता निसार खान, उपाध्यक्ष मिथिलेश दुबे, गोविंद राम, सरयू यादव, बिनोद सिंह, ओमप्रकाश गोप, नरेश कुमार गुप्ता, राजू यादव, ललितेश्वर प्रसाद चौधरी, डाॅ दीपक बंधू, महासचिव दिलीप कुमार रवि, सुनिल कुमार ओझा, विजय कुमार सिंह, शिव नंदन साहू, राम अनुज सिंह, रोहन ठाकुर, प्रखंड अध्यक्ष अजित कुमार सिंह, बाबु खान, सुनिल अग्रवाल, सदरूल होदा, मकसुद आलम, सलीम रजा, मुगेश्वर प्रसाद चौधरी, सुरेन्द्र कुमार, राजू चौरसिया, भैया असीम कुमार, सैयद अशरफ अली के अतिरिक्त कई कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे

Related posts