हजारीबाग:बाल कल्याण समिति के सदस्य एवं जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी ने पीड़ित परिवार के निवास स्थल का किया भ्रमण



लोहार टोलाी ओकनी, हजारीबाग में आग लगने से एक ही परिवार के पति-पत्नी एवं एक बच्चे की हुई मृत्यु हो गयी थी। उक्त आलोक में आज दिनांक- 17.07.2017 को बाल कल्याण समिति, हजारीबाग एवं श्री संजय प्रसाद, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी, हजारीबाग ने संयुक्त रूप से पीड़ित परिवार के निवास स्थल जाकर घटना की सम्पूर्ण जानकारी ली। पदाधिकारियों ने आँगनबाडी केन्द्र के सेविका, स्थानीय लोगों एवं बच्चों के परिजनो से पुछ-ताछ की गई। पुछताछ के क्रम बताया कि उक्त दंपत्ति के दो पुत्री है, जिनकी उम्र लगभग 16 एवं 12 वर्ष है, जिनका पालन-पोषण उनकी दादी के द्वारा किया जा रहा है। स्थल भ्रमण के दौरान पदाधिकारियों ने बाल संरक्षण योजना के तहत दोनों अनाथ दोनों बच्चियों के समुचित पालन-पोषण, शिक्षा, स्वास्थ्य हेतु स्पोंसरशिप योजना के तहत लाभ के लिए चाईडलाईन, हजारीबाग को सभी आवश्यक कागजात उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया।

Related posts