जदयू ने धूमधाम से मनाया भारत रत्न कर्पूरी ठाकुर की 100 वीं जयंती


सादगी का दूसरा नाम कर्पूरी ठाकुर है: पिंटू कुमार सिंह

धनबाद:जदयू पार्टी की ओर से बुधवार की दोपहर धनबाद परिसदन में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक स्वर्गीय कर्पूरी ठाकुर की 100 वीं जयंती धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष पिंटू कुमार सिंह तथा संचालन प्रदेश सचिव राजू कुमार सिंह ने की। पार्टी के धनबाद जिलाध्यक्ष श्री पिन्टु कुमार सिंह ने कहा कि सादगी का दूसरा नाम कर्पूरी ठाकुर है क्योंकि वह बिहार में दो बार मुख्यमंत्री तथा एक बार उपमुख्यमंत्री बनने के बाद भी अपने जीवन को सादगी के साथ बिताया। वह बिहार की राजनीति में गरीबों और दबे कुचले वर्ग की आवाज बनकर उभरे थे। किसानों को बड़ी राहत देते हुए गैर लाभकारी जमीन पर से मालगुजारी टैक्स को खत्म कर दिया था। वह एक स्वतंत्रता सेनानी होने के साथ-साथ शिक्षक तथा राजनीतिज्ञ भी थे। लोकनायक जयप्रकाश नारायण तथा डॉक्टर राम मनोहर लोहिया उनके राजनीतिक गुरु थे। वह भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान करीब ढाई साल जेल में गुजारे। कर्पूरी ठाकुर के जीवन काल से अन्य लोगों को सीख लेने की जरूरत है। बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार वर्षों से स्वर्गीय कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न की उपाधि देने की मांग कर रहे थे। केंद्र सरकार ने मरणोपरांत जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न की उपाधि देने की घोषणा कर दी है। श्री सिंह ने इसके लिए बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार तथा देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी। कार्यक्रम के आरंभ में स्वर्गीय कर्पूरी ठाकुर के चित्र पर माल्यार्पण तथा पुष्प अर्पित किया गया। कार्यक्रम के दौरान प्रदेश महासचिव सुशील कुमार सिंह, वरिष्ठ नेता गुलाब महतो, प्रदेश महासचिव दीप नारायण सिंह, प्रदेश सचिव राजू सिंह, उचित महतो, विजय सिंह कुशवाहा, नगर अध्यक्ष धनलाल दुबे, दलित प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष विद्यानंद पासवान, जिला महासचिव झप्पू सिन्हा, महिला प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष पुष्पा पांडेय, सुनील कुमार मिस्त्री, शंकर विद्यार्थी, बैजू सिन्हा, शिशिर दा, धनबाद प्रखंड अध्यक्ष बबलू मोदक, वरिष्ठ नेत्री रीता रानी मंडल, अनिल सिन्हा, वरिष्ठ नेता सकल देव राय, अनोज कुमार, जय प्रकाश यादव, राकेश बल्लभ सहाय, युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव सुमित वर्मा, स्मृति कान्त सिंह, अशोक सिंह, रीता रानी मण्डल, साधु शरण पासवान, दिलीप सिन्हा, तोपचांची प्रखण्ड अध्यक्ष जितेन्द्र पाण्डेय, टुण्डी प्रखण्ड अध्यक्ष प्रमोद पाण्डेय, महिला प्रदेश सचिव बिन्दु देवी, जिला सचिव संजय डे, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष इम्तियाज अंसारी, निर्मल रवानी, मनोज कुमार, दीपक महतो, आदित्य पासवान सहित कई प्रमुख नेता मौजूद थे।बैठक के दौरान प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार से जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भारत रत्न की उपाधि देने का मांग किया गया है।

Related posts