ईसीआरकेयू का केंद्रीय परिषद का बैठक का आज दूसरे दिन,रेलकर्मियों की समस्याओं को लेकर हुई गंभीर चर्चा चरणबद्ध आंदोलन के लिए युवा और महिला रेलकर्मी

संगठन में अनुशासन की परंपरा बनाए रखेंगे – डी के पांडेय

ईस्ट सेन्ट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन (ईसीआरकेयू) की 29वीं केंद्रीय परिषद् की बैठक का समापन समस्तीपुर स्थित मंथन सभागार में 21 दिसंबर को रेलकर्मियों के विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए विभिन्न चरणों में आंदोलन करने के प्रस्ताव को ध्वनिमत से पारित किया गया. बैठक की अध्यक्षता ईसीआरकेयू के अध्यक्ष डी के पांडेय ने किया तथा संचालन महामंत्री एस एन पी श्रीवास्तव ने किया. औपचारिक शुरुआत करते हुए अध्यक्ष डी के पांडेय ने संगठन को एकजुट और शक्तिशाली बनाए रखने के लिए अनुशासन बनाए रखने को आवश्यक बताया. उन्होंने कहा कि ईसीआरकेयू शुरू से ही समर्पित भाव के साथ रेलकर्मियों के अधिकारों की लड़ाई में आगे रहा है और इस परंपरा को बनाए रखने की बड़ी जिम्मेदारी आज के नेतृत्व पर है. बैठक में महामंत्री एस एन पी श्रीवास्तव ने ईसीआरकेयू और एआईआरएफ द्वारा विभिन्न फोरम पर उठाए गए मुद्दों एवं मांगों की जानकारी रखी. उन्होंने सभी प्रतिनिधियों को रेलकर्मियों की आवासीय समस्याओं को केन्द्रीय पदाधिकारियों को ह्वाट्स ऐप के माध्यम से भेजने की बात रखी ताकि उचित समाधान के लिए त्वरित गति से उच्च अधिकारियों को भेजा जा सके.बैठक में महामंत्री के मुख्य प्रस्ताव पर अपने विचार रखते हुए अपर महामंत्री मो ज़्याऊद्दीन ने कहा कि वर्तमान में देश में मंहगाई अपनी चरम सीमा पर है. बेरोजगार युवक जीवन यापन के लिए नौकरी के लिए दर बदर भटक रहे हैं. अपनी भविष्य के अंधकार दूर करने के लिए मांग उठा रहे हैं और सरकार उनपर लाठियां बरसा रही है. गरीब और गरीब होता जा रहा है. सरकार की नीतियां कुछ धनपतियों के हितों के संरक्षण में लगी है. उन्होंने उपस्थित सदस्यों से इसके लिए सरकार का ध्यान आकृष्ट करने के लिए कार्य योजना तैयार करने की बात रखी. इसके बाद केन्द्रीय कोषाध्यक्ष ओ पी शर्मा ने यूनियन का लेखा जोखा रखा. बैठक के सामान्य सेशन में शाखाओं से आए शाखा सचिव तथा केन्द्रीय परिषद सदस्यों ने अपने अपने क्षेत्र के रेलकर्मियों की विभिन्न समस्याओं पर खुले रूप से चर्चा किया. अध्यक्ष एवं महामंत्री ने इन समस्याओं के प्रति मंडल, महाप्रबंधक तथा रेलवे बोर्ड स्तरीय बैठकों प्रशासन के साथ चल रहे मुद्दों पर प्रगति प्रस्तुत किया. इन समस्याओं में प्रमुख रहे – रेलवे आवासों और कालोनियों की समुचित प्रबंधन व्यवस्था करने, सड़कों और जलनिकासी व्यवस्था में सुधार, रेलवे अस्पतालों में समुचित इलाज व्यवस्था तथा जीवन रक्षक दवाईयों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने, नाईट पेट्रौलमैन के लिए रक्षक संयंत्र उपलब्ध कराने, ट्रैक मेन्टेनर के लिए सभी बुनियादी सुविधाओं से युक्त गैंग लौज बनवाने तथा एल डी सी ई ओपन टू आल से संबंधित फेडरेशन द्वारा रखे प्रस्ताव पर सहमति बनाने और उनको 4200 ग्रेड पे के साथ पर्यवेक्षक पद तक की पदोन्नति सोपान की स्वीकृति प्रदान करने, रनिंग कर्मचारियों को 4200 तथा 4600 ग्रेड पे देने तथा मिनीमम किमी का भुगतान सुनिश्चित करने, जोखिम भरे कार्य करने वाले सभी विभागों के कर्मचारियों को जोखिम भत्ता देने, रात्रि भत्ते के एरियर का भुगतान करने एवं 43600 वेतनमान के ऊपर के कर्मचारियों को पूर्ववत प्रक्रिया के अनुसार भुगतान करने, स्टेशन मास्टर के पैनल रूम को वाशरूम युक्त करते हुए वातानुकूलित करने, सभी विभागों के तकनीकी कर्मचारियों को आधुनिक संयंत्र मुहैया कराने, बैटरी आपूर्ति प्राप्त करने वाले कर्मचारियों को बैटरी के बदले प्रति माह बैटरी भत्ता देने, रेलवे कालोनियों में रेलवे सामुदायिक भवन सुविधायुक्त करने, प्वायंट्समैन को 4200 तक पदोन्नति सोपान प्रदान करने, महिला कर्मचारियों के लिए उनके कार्य स्थल पर अलग से वाशरूम युक्त विश्राम कक्ष उपलब्ध कराने के मुद्दे प्रमुख रहे. बैठक में सर्वसम्मति से यह प्रस्ताव पारित किया गया कि उक्त मांगों को लेकर जनवरी 2022 में प्रत्येक मंडल में मंडलीय परिषद की बैठक करने तथा मार्च 2022 में महाप्रबंधक हाजीपुर के समक्ष प्रदर्शन किया जाएगा. सेशन के अंत में उपस्थित सदस्यों ने बैठक में रखे गए सभी प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पारित कर दिया. बैठक के कार्यवृत्त का लेखन कार्यकारी अध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने किया. बैठक में उपस्थित सदस्यों के प्रति धन्यवाद ज्ञापन समस्तीपुर मंडल मंत्री सह सहायक महामंत्री के के मिश्रा ने किया. बैठक में अपर महामंत्री मो जियाऊद्दीन, कार्यकारी अध्यक्ष एसएसडी मिश्रा, मिथिलेश कुमार, केंद्रीय उपाध्यक्ष बिन्दु कुमार, आरके मंडल, संजय कुमार मंडल, बीपी यादव, सहायक महामंत्री ओमप्रकाश, मनीष कुमार, बीबी पासवान, मनोज कुमार पांडेय, श्रीमती मृदुला कुमारी, एसके भारद्वाज, चंद्रशेखर सिंhह, केंद्रीय कोषाध्यक्ष सह जोनल सेक्रेटरी ओपी शर्मा सहित पूर्व मध्य रेल मे ईसीआरकेयू की समस्त शाखाओं के शाखा सचिव, केंद्रीय परिषद सदस्य और सैकड़ों रेलकर्मियों मौजूद थे उपरोक्त जानकारी ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के मीडिया प्रभारी एनके खवास ने दी है।

Related posts