Gaya:निगम के विकास योजनाओं से शहरवासियों को अब बदला-बदला सा दिखेगा ‘गया’ शहर : डिप्टी मेयर


गया में आज गया नगर निगम ने शहरवासियों के लिए कुछ खास व कई नई सौगात देने जा रही है। नगर निगम की ओर से 2020-21 में शुरू किए गए कई योजनाओं लगभग पूरे हो गए हैं। इससे शहरवासियों को बदला-बदला सा गया शहर नजर आएगा। गया नगर निगम की ओर से कंडी नवादा स्थित चिल्ड्रन पार्क, गांधी मैदान स्थित पार्क व ओपन जिम, अक्षयवट स्थित नौका विहार, ब्रह्सत्य तालाब में लाइट एन्ड साउंड, कचरे का निष्पादन व खाद्य, ईंट व रस्सी का निर्माण किया जाएगा एवं जल्द ही इस योजनाओं के पूरे होते ही शहर बेहतरीन दिखेगा।आगे इसी कड़ी में मंगलवार की सुबह मेयर वीरेन्द्र कुमार उर्फ गणेश पासवान, डिप्टी मेयर अखौरी ओंकार नाथ उर्फ मोहन श्रीवास्तव, नगर आयुक्त सावन कुमार सहित पदाधिकारियों व पार्षदों ने निगम द्वारा विभिन्न कई योजनाओं का कार्य को देखने पहुंचे। सबसे पहले गांधी मैदान में निगम की ओर से निर्माण किए जा रहे पार्क व ओपन जिम का जायजा लिया गया है। इस दौरान डिप्टी मेयर व नगर आयुक्त ने संबंधित को काम में और तेजी लाने का निर्देश दिया है।डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि गांधी मैदान स्थित ओपन जिम में व्यायाम के लिए कई उपकरण लगाए गए हैं।इसके साथ ही बच्चों के लिए चिल्ड्रन पार्क बनाया जा रहा है।इस कार्य लगभग अंतिम चरण पर है। हरित पट्टी में बन रहा जिम करीब आधा किलोमीटर का है। ओपेन जिम में रोशनी को लेकर हेरिटेज लाइट लगाई गई है। इससे पर्याप्त मात्रा में रोशनी मिलेगी व दूर से खूबसूरत दिखेगा। जिम में लग रहे उपकरणों में डबल स्काई वॉकर, डबल एयर वॉकर, ट्रिपल बेल्ट ट्रविस्ट, शोल्डर फिल, सीट एंड पूल सहित कई उपकरण शामिल हैं। लोहे के उपकरण होने से इसे लोग नुकसान भी नहीं पहुंचा सकेंगे। इसके साथ ही पाथ-वे, शौचालय, प्याऊ सहित अन्य सुविधाएं सुलभ रहेंगी। शहरवासियों के लिए ओपेन जिम व चिल्ड्रेन पार्क निःशुल्क रहेगा।
*जल्द ही कचरे से तैयार की जाएगी रस्सी*
इसके आलवा मेयर, डिप्टी मेयर नगर आयुक्त ने निरीक्षण के लिए नैली स्थित डंपिंग यार्ड पहुंचे।इस प्लांट में जहाँ कचरे से निष्पादन के लिए कई मशीन लगा दिए गए हैं। मेयर- डिप्टी मेयर ने संयुक्त रूप से बताया कि 33 साल की जमा कचरे को निगम ने निष्पादित कर जैविक खाद्य तैयार किया जा रहा है। दो साल पूर्व हमने यह संकल्प लिया था। पहाड़ बने कचरे का निष्पादन किया जाएगा एवं उस समय लगा था यह सपना, कैसे पूरा होगा। लेकिन हम सब का दिन-रात की मेहनत, लग्न व विश्वास ने सपने को साकार कर यह कर दिखाया है।और इसे जल्द ही कचरे से ईंट व रस्सी तैयार भी किए जाएंगे और मरे हुए जानवर कृमिशन के लिए मशीन लगाए जाएंगे, कचरे की निगरानी के लिए सभी घर के बाहर क्यूआर कार्ड लगाए जाएंगे और वहीं इसके अलावा एक सप्ताह बाद गया शहरवासी रुक्मिणी तालाब में नौका विहार से भी लुप्त उठाएंगे।इस मौके पर पार्षद विनोद यादव, सफाई प्रभारी सह नोडल पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिन्हा, कनीय अभियंता दिनकर प्रसाद सहित अन्य मौजूद थे

Related posts