रक्षा मंत्री ने कहा कि एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में तीनों सेनाओं के दल ने इस मामले में जांच शुरू कर दी





दिल्ली -तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर हादसे में चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत 12 लोगों की मौत पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज संसद को संबोधित किया. रक्षा मंत्री ने कहा कि एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में तीनों सेनाओं के दल ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है. इस दौरान उन्होंने जनरल रावत सहित अन्य 12 लोगों को श्रद्धांजलि दी. उन्होंने कहा कि ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह मिलिट्री हॉस्पिटल में लाइफ सपोर्ट पर हैं. उन्हें बचाने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं.इस दौरान लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भी घटना पर शोक जताया है. बिरला ने कहा, ‘‘मैं अपनी ओर से और सदन की ओर से भारत के प्रथम सीडीएस, उनकी पत्नी की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में दुखद मृत्यु पर शोक प्रकट करता हूं. जनरल बिपिन रावत ने हमारे देश की रक्षा व्यवस्था में मूलभूत परिवर्तन लाने में अभूतपूर्व योगदान दिया था. लोकसभा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘उन्हें राष्ट्र के प्रति प्रतिबद्धताओं एवं समर्पण के लिए याद रखा जाएगा. सदन में कुछ देर के लिए मौन रखा गया.
वहीं हादसे में जनरल रावत की मृत्यु के बाद केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि एक महान योद्धा का दुर्भाग्यपूर्ण निधन हो गया है. यह बहुत बड़ा नुकसान है. वहीं पिछले बुधवार से गांधी प्रतिमा के सामने धरना दे रहे राज्यसभा के 12 निलंबित सांसदों ने सीडीएस जनरल रावत के निधन पर शोक जताते हुए आज धरना नही देने का फैसला किया. साथ ही इन सांसदों ने एक मिनट का मौन भी रखा.

Related posts