डीवीसी के बोकारो थर्मल पावर प्लांट में हुआ हादसा, 6 मजदूर चोटिल




डीवीसी के बोकारो थर्मल पावर प्लांट में शुक्रवार की रात बॉयलर के पीएफ फैन के चालू हो जाने के कारण अफरा तफरी में 6 मजदूर चोटिल हो गये. अन्य मज़दूर बाल- बाल बचे. सभी घायल मजदूरों को आनन-फानन में स्थानीय डीवीसी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां प्राथमिक इलाज के बाद उन्हें घर भेज दिया गया. इस घटना से आक्रोशित मजदूरों ने कंट्रोल रूम में काफी बवाल किया और अधिकारियों का घेराव कर दिया.

*बॉयलर का पीएफ फैन चालू होने से अफरा-तफरी:*

घटना के संबंध में बताया जाता है कि पावर प्लांट के बॉयलर का पीएफ फैन में बीकेसी कंपनी के 14 मजदूर इलामेंट का काम कर रहे थे. इस दौरान किसी ने कंट्रोल रूम से पीएफ़ फैन को अचानक चालू कर दिया. इसके उपरांत वहां अफरा -तफरी मच गयी और मजदूरों कूदकर अपनी जान बचायी. बताया गया कि घटना के बाद वहां से डीवीसी के तीन कर्मचारी साइट से भाग गये. _*सूचना मिलने के बाद यूनियन के नेता गणेश राम प्लांट पहुंचे और घायलों को अस्पताल लेकर गये. बॉयलर में राजेंद्र नायक, योगेंद्र यादव, गणेश रावत, कुलेश्वर यादव, शकील खान, दिलीप बीना, राजेश बीना, तूफान डिगर, रामागिया प्रसाद सहित 14 मजदूर काम कर रहे थे, जो डीवीसी के तीन विशेषज्ञ अधिकारियों के देखरेख में काम रहे थे.*_

*मरम्मत का कार्य किया जा रहा था:*

मजदूर शकील खान ने बताया कि बॉयलर के पीएफ़ फैन का मरम्मत कार्य गुरुवार को ही पूरा हो गया था, लेकिन वॉयलर में पुनः लिकेज होना शुरू हो गया, जिस कारण फिर मरम्मत का कार्य किया जा रहा था. अचानक पीएफ फैन चालू हो गया. _*जिससे गणेश रावत, राजेंद्र नायक, रामागिया प्रसाद व योगेंद्र यादव सहित 6 मजदूर चोटिल हो गये.*_ इस घटना के बाद प्लांट का बिजली उत्पादन जीरो हो गया.

लापरवाही पर कार्रवाई होगी:

इधर, मजदूरों के द्वारा कंट्रोल रूम का घेराव की सूचना पर प्रोजेक्ट हेड सुशांत सन्नीग्रही, डीजीएम अरूण कुमार, अपर निदेशक नीरज सिन्हा सहित अन्य अधिकारी वहां पहुंचे और प्रतिनिधियों से वार्ता की. वार्ता में प्रोजेक्ट हेड सुशांत सन्नीग्रही ने आश्वासन दिया कि इस मामले में जिस अधिकारी व कर्मचारी की लापरवाही सामने आयेगी, जांच के बाद उनपर कार्रवाई होगी. _*हादसे की पुष्टि प्रोजेक्ट हेड सुशांत सन्नीग्रही ने भी की है।*_

Related posts