शिक्षको को राज्यकर्मी का दर्जा देने के लिए परीक्षा अनिवार्य कर शिक्षक समाज का अपमान किया तेजस्वी यादव ने -राहुल यादव



गया।भाजपा किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष राहुल यादव ने आज नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव का गया के गाँधी मैदान एवं मगध के विभिन्न इलाको मे जन विश्वास यात्रा निकला है उसे राहुल यादव ने  विश्वास यात्रा कम और  बिहार एवं मगध के लोगो का शोषण, विश्वासघात यात्रा ज्यादा करार दिया है। और राहुल यादव ने कहा की बिहार के नियोजित शिक्षको पर विश्वासघात यात्रा ज्यादा लगता है। जब नेता प्रतिपक्ष ने उप मुख्यमंत्री रहते बिहार के नियोजित शिक्षको को परीक्षा मे उत्तीर्ण हो नहीं तो उनकी नौकरी चली जायगी जब ये  विश्वास यात्रा कैसे ये तो  विश्वासघात यात्रा है। विश्वासघात उनसे जो समाज को एक नई दिशा दिखाते है शिक्षक समाज। अपने उप मुख्यमंत्री काल मे इन्होने बिहार के आंदोलनकारी संगठन शिक्षको, टोला सेवक, आशा सेवक, आँगनवाड़ी सेविका सहायका, जन वितरण प्रणाली विक्रेता, स्वास्थ सेवक एवं कई अन्य समाजिक कार्यकर्ताओ जो सरकार का सरकारी कार्यो को धरातल के उतारते है उनपर लाठी – डंडे से कई बार जानलेवा प्रहार किया गया और आज जब सरकार से बाहर होते है तो जनता की याद आती है। वाह परिवारवाद और इनके झूठे वादे वाले नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी जी ये मगध की एवं बिहार के लोगो को आप हमेसा अनपढ़ एवं निचा समझते है जब बिहार के युवाओं को नौकरी की बारी आई तो आपने डोमिसाइल नीति को हटाकर बिहार के युवाओं का अपमान किया और बिहार मे बाहर से लोगो को लाकर बिहार के युवाओं को बेरोजगार बनाया ये सारी बाते बिहार का युवा वर्ग याद रखे हुए है की आपने कितना अनन्या और शोषण, विश्वासघात किया है। आपके इस झांसे मे बिहार के युवा नहीं आएंगे और अबकी बार बिहार के युवा मोदी सरकार को पुनः बिहार से लोकसभा के चुनाव मे 39 नहीं बल्कि 40 सीटे देकर मोदी  को 400 पार के लक्षय को पूर्ण करेंगे।

Related posts