चिकित्सकीय परामर्श शिविर में सैकड़ों मरीजों को दी गई आवश्यक

जमुई से सरोज कुमार दुबे की रिपोर्ट

जमुई / सोनो प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत शनिवार को स्थानीय आदर्श मध्य विद्यालय में निशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में पटना से आए विशेषज्ञ चिकित्सकों के द्वारा प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों से आए सैकड़ों मरीजों के किडनी, पेट, डायबिटीज,हार्ट संबंधी बीमारियों की जांच की गई और उन्हें आवश्यक चिकित्सकीय परामर्श दिए गए। आईजीआईएमएस पटना के नेफ्रोलॉजी विभाग के पूर्व रजिस्ट्रार डॉ आरके झा ने बताया कि आधुनिक भागदौड़ वाली जीवन शैली के कारण बहुत ही कम उम्र में लोग विभिन्न तरह की बीमारियों से ग्रसित हो जाते हैं। वैसे भी भारत को मधुमेह की राजधानी कहा जाता है। खान-पान की खराबी और शारीरिक श्रम में कमी के कारण यह बहुत तेजी के साथ बढ़ रहा है। इसकी वजह से हमारे शरीर के कई अंग जैसे किडनी,आंख, लीवर, फेफड़ा आदि प्रभावित होता है। किडनी सबसे ज्यादा प्रभावित होती है।उन्होंने बताया कि सूजन आना,थकान आना, पेशाब में झाग आना, पेशाब में खून आना, पेशाब कम तथा जल्दी-जल्दी होना, बार बार उल्टी होना आदि किडनी की बीमारी के लक्षण हैं। ऐसे में लोगों को सचेत रहना चाहिए और कोई भी लक्षण दिखने पर तत्काल चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए। शिविर में लोगों को इन बीमारियों से संबंधित निशुल्क आवश्यक परामर्श दिए गए। मौके पर डॉ अविनाश यादव, डॉ शंकर यादव, नर्सिंग स्टाफ आफताब आलम, आकाश कुमार, सहबुल अंसारी, कृष्णा सिंह, प्रीति कुमारी, प्रिया कुमारी, नैयाडीह पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि एतवारी यादव आदि मौजूद रहे।

Related posts