झारखंड में रोजगार नहीं मिलने पर युवाओं में आक्रोश -सुमंत पांडे


धनबाद: इन दिनों सोशल मीडिया झारखंड में रोजगार की मांग को लेकर युवाओं ने एक नया अभियान शुरुआत किया है झारखंड में रोजगार को लेकर युवाओं ने रोजगार की मांग को लेकर ट्विटर अभियान चला रखे हैं तीन जुलाई तक चलने वाले ट्विटर अभियान का नाम झारखंडी युवा मांगे रोजगार रखा गया है इस अभियान में अभी तक लगभग 5 लाख से अधिक युवा जुड़ चुके हैं इस संबंध में जदयू युवा मोर्चा के झारखंड प्रदेश सचिव सुमंत पांडे ने कहां कि झारखंड सरकार जिस प्रकार से युवाओं से 5 लाख प्रतिवर्ष रोजगार का वादा करके झारखंड में सरकार बनाई है लेकिन डेढ़ वर्ष बीत जाने के बाद भी झारखंड में एक भी नियुक्तियां नहीं हुई सिर्फ झारखंड के युवाओं को विश्वास में लेकर हेमंत सोरेन सत्ता में आयी, कई नियुक्तियां नियमावली के पेंच में फंसी हुई है , उन्होंने कहा कि झारखंड सरकार का नियोजन नीति स्पष्ट नहीं

Related posts