धनबाद भारतीय गैर सरकारी शिक्षक संघ इप्टा की एक वर्चुअल मीटिंग आयोजित की गई

Dhanbad:जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सुश्री आशा रानी को आमंत्रित किया गया । जो ए आई एस डी ओ की छात्र नेत्री है एवं कई संगठनों से अवार्ड प्राप्त कर चुकी हैं। उन्होंने संगठन के प्रति अपनी पूर्णरूपेण समर्पित भावना से हर वक्त साथ देने का वादा किया। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परमानंद मोदी ने अपने संबोधन में कहा की भारत सरकार की नई शिक्षा नीति का एक वर्ष पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा जो संबोधन दिया गया उसमें करोना काल में देश के तीस लाख से ऊपर निजी शिक्षकों की जो व्यथा है, उसका कहीं भी जिक्र ना होना हम सभी निजी शिक्षकों कि उपेक्षा और असंतुष्टि का कारण बना। जिसके प्रत्युत्तर में डॉक्टर परमानंद मोदी ने भारत सरकार को आह्वान करते हुए कहा की इप्टा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की इस नई शिक्षा नीति के सपने को पूरा करने में युद्ध स्तर पर गांव गांव जाकर फैलाने का वचन देता है। अतः हम सभी निजी शिक्षकों की संविधान पटल पर एक पहचान निर्धारित करने को संज्ञान में लिया जाए। जिससे इस नई शिक्षा नीति को लागू करने में इप्टा पूण सहयोग कर सके। राष्ट्रीय महासचिव, मनोरंजन गोस्वामी के द्वारा आज तीन उपलब्धियों की घोषणा की गई । पहली घोषणा संगठन का वेबसाइट , दूसरा गूगल पेज बनाना, तीसरा देश के पूरे 745 जिले जिले में डीसी डीएम कमिश्नर सहित देश के हर राज्य के राज्यपाल मुख्यमंत्री एवं देश के 14 मंत्रालय में संगठन का दस सूत्री कार्यक्रमों का ज्ञापन सौंपा जा चुका है । राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती हरप्रीत कौर ने अपने संबोधन में कहा की देश की निजी शिक्षकों कि विकट परिस्थिति को जिला स्तर से लेकर राज्य स्तर एवं केंद्र स्तर तक के सभी प्रशासनिक पदाधिकारियों तक पहुंचाने की मुहिम में तेजी लेने का आग्रह किया। राष्ट्रीय महासचिव , मनोरंजन गोस्वामी, ने आश्वासन दिया कि वे संगठन की मांगों को संसद के मानसून सत्र में उठाने का कार्य करेंगे।
आज की इस वर्चुअल मीटिंग में, आशा रानी, रबी निराला, रवि सर, अमित सुमित , आरएन चौरसिया, इंद्र मोहन , जनार्दन पांडे, वर्षा पांडे, अमिता सिंह, मीरा वर्मा, रणजीत जी, इंद्र पाल, वरुण , रामपाल, मीना शर्मा, लक्ष्मी, राजेश जी, अजय मंडल, रोहित, अंकित, शैलेश शर्मा, संजीव शर्मा और विजय , मुख्य रूBप से दास जी का सहयोग सराहनीय रहा।

Related posts