हजारीबाग:कटकमसांडी प्रखण्ड पुलिस प्रशासन अपराधियो को दे रही है संरक्षण सुनील पाण्डेय



सुनिल कुमार पाण्डेय प्रदेश अध्यक्ष झारखण्ड ,अंतर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ नामजद अभियुक्त सरिता देवी मुखिया कटकमसांडी को जिस पर निक्की पाण्डेय हत्या कांड का केश दर्ज है , कटकमसांडी थाना प्रभारी , कटकमसांडी C.O , कटकमसांडी प्रखण्ड विकाश पदाधिकारी इन्हें बेहतर कार्य करने के लिए सम्मानित कर रहे है ।
अब प्रश्न उठता है प्रखण्ड प्रशासन पर ?
क्या प्रखण्ड प्रशासन अपराधियो को बेहतर मानती है ?
पूरे प्रखण्ड में उन्हें ही क्यों चुना गया जो हत्या के मामले में नामजद है ?

निक्की पाण्डेय का हत्या हुवे पूरे एक वर्ष हो गया लेकिन आज तक खुलाशा नही हुआ है आखिर क्यों ?
जब प्रशासन ही नामजद अभियुक्त को बेहतर मानती है , या उसे बेहतर बनाने का प्रयास कर रही है तो मामला समझने योग्य है । आखिर प्रखण्ड प्रशासन आपस मे मिल कर क्या खिचड़ी पका रही है । जिनमे योग्यता है उन्हें सम्मान मिलना चाहिए लेकिन लेकिन किसी अपराधी को बचाने का प्रयास किसी को नही करना चाहिए । आज पूरे एक वर्ष बीत गए हैं लेकिन निक्की पाण्डेय हत्या कांड का उद्भेदन नही हुआ है । गरीब माँ की आँखे न्याय के लिए दर दर भटक रही है । प्रखण्ड प्रशासन द्वरा किये गए इस कार्य का अंतर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ निंदा करती है । निंदा व्यक्त करने वाले में अंतर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ प्रदेश प्रभारी देवचरन पाण्डेय , प्रदेश महासचिव वीरेंद्र शास्त्री , प्रदेश अध्यक्ष युवा प्रो.ओमकार नाथ शर्मा , प्रदेश अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ रीमा मिश्रा ,प्रदेश अध्यक्ष विधि प्रकोष्ठ अवनीश रंजन मिश्रा ,आमोद पाण्डेय ,सूरज पाठक , मास्टर झब्बू ,कृष्णदेव पाण्डेय ,प्रदीप पाण्डेय ,राजकरण पाण्डेय ,गंगाधर शास्त्री ,नकुल पाण्डेय , पुरेन्द्र पाण्डेय ,प्रवेश पाण्डेय ,सुमन पाण्डेय , बटेश्वर मिश्रा, राजेश तिवारी , सुनैना दुबे , ओमप्रकाश पाण्डेय ,आदि पूरा समाज है ।

Related posts