मार्खम कॉलेज में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन





हजारीबाग रक्तदान है महादान। रक्तदान सबसे पुण्य कार्य होता है, इससे शरीर स्वस्थ रहता है। उक्त बातें स्थानीय मार्खम कॉलेज में एनएसएस एवं एनसीसी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय स्वैच्छिक रक्तदान शिविर के उद्घाटन समारोह में बतौर कॉलेज के प्राचार्य डॉ बिमल कुमार मिश्र ने कही। उन्होंने कहा कि रक्तदाता प्रत्येक तीन महीने में रक्तदान कर सकते हैं। ऐसी भी भ्रांतियां है कि रक्त दान करने से रक्त घटता है, परंतु ऐसा नहीं है। हर व्यक्ति के शरीर में ब्लड बैंक होता है, जो रक्त की कमी को पूरा करता है। रक्तदान में स्थानीय शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल की मेडिकल टीम ने भरपूर योगदान दिया। इस अवसर पर मेडिकल टीम ने रक्तदाता प्रमाण पत्र निर्गत किए। रक्तदाताओं को कॉलेज के प्राचार्य डॉ मिश्र ने रक्तदाता प्रमाण पत्र वितरित किए। रक्त दाताओं में मुख्य रूप से एनएसएस के स्वयंसेवक सन्नी कुमार, विकास कुमार, एनसीसी कैडेट्स उत्पल कुमार राय ,संजय सोरेन, वीरेंद्र कुमार ,गोपी कुमार, मोहम्मद फैज अली, करण यादव, मोहम्मद साजिद अंसारी उपस्थित थे। आजादी के अमृत महोत्सव के वर्ष वर्ष भर के कार्यक्रम के तहत कॉलेज के शिक्षक भोला नाथ सिंह की देखरेख में आयोजित इस रक्तदान शिविर में कॉलेज के प्रोफेसर इंचार्ज डॉ सुरेंद्र बरई, डॉ यूएस सिंह, डॉ एडी सिंह समेत शिक्षक कर्मचारी एवं विद्यार्थीगण उपस्थित थे। इस रक्तदान कार्यक्रम में मुख्य रूप से स्वयंसेवकों में आनंद कुमार, रंजय प्रसाद, प्रेरणा कुमारी, फरिहा अंजुम, प्रियांशी किशोर, राहुल कुमार, अंकित कुमार सिंह, अफाम अकरम, वरुण कुमार, कुणाल सिंह, शंकर कुमार, श्रवन कुमार राणा ,बसंत कुमार आशीष आर्य भारती उपस्थित थे।

Related posts