सिंदरी:गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर काफी समय से चल रही नकली मिनी शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़

जोड़ापोखर। सिदरी के डीएसपी अभिषेक कुमार के नेतृत्व में जोड़ापोखर थाना पुलिस ने मंगलवार को डुमरी दो नंबर में गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर काफी समय से चल रही नकली मिनी शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया। दीपक साव के घर व पास के एक होटल से हजारों रुपये के नकली अंग्रेजी शराब, विभिन्न ब्रांडों के रैपर और शराब निर्माण करने वाली सामग्री जब्त की। पुलिस को छापेमारी में तीन बोरा खाली बोतल भी मिले। पुलिस ने मौके से संचालनकर्ता दीपक साव को गिरफ्तार कर लिया है। शिबू साव और होटल संचालक गोगा भाग गया। यहां अवैध शराब का धंधा काफी समय से किया जा रहा था। इसकी सूचना स्थानीय लोगों ने डीएसपी को दी। इसके बाद छापेमारी की गई। डीएसपी ने कहा कि अंग्रेजी शराब अवैध तरीके से बनाने और इसकी बिक्री करने की गुप्त सूचना पर डुमरी दो नंबर में शिबू साव के घर व पास के एक होटल में छापेमारी की गई। जब्त अवैध शराब की कीमत डेढ़ लाख रुपये से अधिक की बताई जाती है। छापेमारी में जोड़ापोखर के थाना प्रभारी राजदेव सिंह, महेंद्र कुमार, शिव कुमार आदि थे। तीन लोगों को बनाया गया आरोपित :जोड़ापोखर थाना के प्रभारी राजदेव सिंह ने कहा कि अवैध शराब जब्ती के मामले में तीन लोगों को आरोपित बनाया गया है। शिबू साव, उसके भाई दीपक साव व गोगा पांडेय के होटल से 184 बोतल देशी-विदेशी शराब, चार सौ ढक्कन, 710 स्टिकर, चार सौ खाली बोतल आदि सामाग्री जब्त की गई है। पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। गिरफ्तार व्यक्ति से पुलिस थाना में पूछताछ कर रही है।

Related posts